Thursday, July 27, 2017

सफर करने से उल्टियों या जी मिचलाने की समस्‍या




सफर के दौरान उल्टियां

मुझे घूमने का बहुत शौक है, लेकिन सफर के दौरान होने वाली उल्टियों के डर से मैं अपने इस शौक को पूरा नहीं कर पाती। खासकर मैं अपनी इस समस्‍या के कारण पहाड़ों में घूमने नहीं जा पाती हूं। मेरे ही जैसे कुछ लोगों को घूमने का बहुत शौक होता है लेकिन वह भी इस डर से कहीं नहीं जा पाते है। जी हां कुछ लोगों को कार या बस में लंबा सफर करने से उल्टियों या जी मिचलाने की समस्‍या होने लगती है। ऐसे लोग वैसे तो ठीक रहते हैं पर जैसे ही कहीं जाने के लिए बस या कार में बैठते है तो उनका जी मिचलाने लगता है और उन्‍हें उल्‍टी होने लगती है। और कई लोगों को यह समस्‍या पहाड़ में सफर के दौरान बहुत ज्‍यादा होती है। इससे उनका सफर शुरू होने से पहले ही खराब हो जाता है।

2 प्‍याज का रस

सफर में होने वाली उल्टियों से बचने के लिए सफर पर जाने से आधे घंटे पहले 1 चम्‍मच प्‍याज के रस में 1 चम्‍मच अदरक के रस को मिलाकर लेना चाहिए। इससे आपको सफर के दौरान उल्टियां नहीं आयेगी। लेकिन अगर सफर लंबा है तो यह रस साथ में बनाकर भी रख सकते हैं।

3 लौंग का जादू

सफर के दौरान जैसे ही आपको लगे कि आपका जी मिचलाने लगा है तो आपको तुंरत ही अपने मुंह में लौंग रखकर चूसनी चाहिए। ऐसा करने से आपका जी मिचलाना बंद हो जायेगा।



4 एंटीमेटिक गुण वाली अदरक



अदरक में एंटीमेटिक गुण होते हैं। एंटीमेटिक एक ऐसा पदार्थ है जो उल्‍टी और चक्कर आने से बचाता है। सफर के दौरान जी मिचलाने पर अदरक की गोलियां या फिर अदरक की चाय का सेवन करें। इससे आपको उल्टी नहीं होगी। अगर हो सके तो अदरक अपने साथ ही रखे। अगर घबराहट हो तो इसे थोड़ा-थोड़ा खाते रहे।

5 बेहद मददगार पुदीना

पुदीना आपके पेट की मांसपेशियों को आराम देता है और इस तरह चक्कर आने और यात्रा के दौरान तबीयत के खराब लगने की स्थिति को भी समाप्त करता है। पुदीने के तेल भी उल्टियों को रोकने में बेहद मददगार है। इसके लिए रुमाल पर पुदीने के तेल की कुछ बूंदे छिड़के और सफर के दौरान उसे सूंघते रहे। सूखे पुदीने के पत्तों को गर्म पानी में मिलाकर खुद के लिए पुदीने की चाय बनाएं। इस मिश्रण को अच्छे से मिलाएं और इसमें 1 चम्मच शहद मिलाएं। कहीं निकलने से पहले इस मिश्रण को पियें। इसके अलावा इससे आपको काफी आराम मिलेगा।

6 छोटे से नींबू के कमाल

नींबू एक असरदार औषधि है, इसमें मौजूद सिट्रिक एसिड उल्‍टी और जी मिचलाने की समस्‍या को रोकते हैं। एक छोटे कप में गर्म पानी लें और उसमें 1 नींबू का रस तथा थोड़ा सा नमक मिलाएं। इसे अच्छे से मिलाकर पियें। या आप नींबू के रस को गर्म पानी में मिलाकर तथा शहद डालकर भी पी सकते हैं। यात्रा के दौरान होने वाली परेशानियों को दूर करने का यह एक कारगर इलाज है।

सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


No comments:

Post a Comment