Wednesday, May 10, 2017

मुल्तानी मिट्टी को खूबसूरती का खजाना




अपनी त्वचा को हमेशा जवां बनाए रखने के लिए आप प्राकृति के अनमोल खजाने के रूप में मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह प्राकृतिक फेसपैक है। मुल्तानी मिट्टी को खूबसूरती का खजाना कहा जाता है। इसके प्रयोग से त्वचा खिलने के साथ-साथ दमकती भी है।
यदि आपको बाल दो-मुंहे हो जाते हैं, तो मुल्तानी मिट्टी से बना लेप लगाने से लाभ होगा। एक अंडे का साथ मुल्तानी मिट्टी के पाउडर को मिलाकर लेप तैयार करें पिुर इसे अपने बालों में लगाएं। सूख जाने पर इसे धो लें। अब इसमें सिर की जैतून के तेल से अच्छी तरह मालिश करें। आपके बाल स्वस्थ होने के साथ हर तरह की समस्याओं से निजात पाएंगे।

मुल्तानी मिट्टी एक प्रकार की प्राकृतिक मिट्टी होती है। जिसमें कई गुणकारी तत्व पाये जाते हैं। इसमें पाया जाने वाला आयरन, मैग्नीशियम, कैलसिसाइट, क्वार्टज, कैल्शियम जैसे प्राकृतिक उपायोगी तत्व होने के कारण इसका उपयोग त्वचा एवं बालों की समस्याओं को दूर करने के लिए बहुतायात मात्रा में किया जाने लगा है।

2 चम्मच मुल्तानी मिट्टी मे टमाटर का रस और चंदन पाउडर मिक्स करें। अगर एक्सट्रा ग्लो चाहिए तो उसमें थोडा सा हल्दी मिला लीजिए। इस पैक को चेहरे पर 10 मिनट तक लिये लगाएं और फिर गरम पानीसे चेहरा साफ कर लें।

3 अगर आपके बाल घुघरालें हैं और आप उन्हें सीधा करना की चाहा रही हैं। तो इस तरह की समस्या को दूर करने के लिए मुल्तानी मिट्टी एक अच्छा घरेलू उपाय है इसके लिए आपको पार्लर में पैसा बर्बाद करने की जरूरत नहीं है आप घर बैठे ही इसका निदान कर सकते हैं। बस आपको लगाना है मुल्तानी मिट्टी इसका उपयोग करनेसे आपके बाल होगें मोटे और स्ट्रेट।

4 यदि आप मुंहासों से परेशान हो तो मुल्तानी मिट्टी को पानी में भिगोकर पेस्ट बना लें और चेहरे पर इसे पेस्ट को लगाने से मुंहासों से छुटकारा पाएं।

मुल्तानी मिट्टी, चंदन पाउडर और हल्दी पाउडर को गुलाबजल में मिलाकर चेहरे पर लगाएं। 15 मिनट के बाद चेहरा धो लें। अगर आपकी स्किन सामान्य है, तो चंदन पाडर की जगह बादाम का पाउडर मिला सकती हैं।



















सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


No comments:

Post a Comment