Wednesday, November 16, 2016

Toxic chemicals that help the body eliminate these 5 foods



खाने-पीने और हवा के जरिए शरीर में ऐसे कई केमिकल्स प्रवेश कर सकते हैं, जो हेल्थ के लिए नुकसानदेह होते हैं। वैसे तो लिवर और किडनी द्वारा इन्हें फिल्टर कर दिया जाता है, लेकिन कुछ फूड आइटम ऐसे हैं, जो इनके टॉक्सिक इफेक्ट को खत्म कर देते हैं।

हरी प्याज़



एंटी-ऑक्सीडेंट्स और सल्फर से भरपूर हरी प्याज़ डिटॉक्सिफिकेशन (प्वाइजनस केमिकल के प्रभाव को खत्म करना) में मदद करने वाले एंजाइम्स को एक्टिवेट कर देता है। साथ ही, इसमें कैलोरी भी बहुत कम होती है, जिससे ये वजन को भी कंट्रोल करता है। हरी प्याज़ के सेवन से कोलेस्ट्रॉल कम होता है। साथ ही, हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा कम रहता है। ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारी से बचने के लिए भी इसे खाना फायदेमंद रहेगा।
अखरोट



इसमें ओमेगा-3 ऑयल होता है। यह दिल को तो हेल्दी रखता ही है, साथ में डिटॉक्सिफिकेशन का काम भी बखूबी करता है। इसमें मौजूद कॉपर, मैग्नीशियम और बॉयोटीन कैंसर की बीमारी को दूर रखता है। इसे खाने से प्रोस्टेट कैंसर की संभावना को कम किया जा सकता है। एंटी-ऑक्सीडेंट हमारे शरीर के लिए बहुत ही जरूरी होता है। यह फ्री रैडिकल्स को दूर कर असमय आने वाले बुढ़ापे की समस्या को भी दूर करता है।

हरा धनिया



इसके एंटी फंगल, एंटी सेप्टिक इन्ग्रीडिएंट्स नुकसानदायक तत्वों को सेल्स से दूर रखते हैं। साथ में लिवर की सफाई करने वाले एंजाइम्स को बढ़ाते हैं। इसकी पत्तियों को कच्चा चबाकर, खाने में डालकर या इसके बीजों को भी खाने से शरीर में मौजूद हानिकारक केमिकल्स को आसानी से दूर किया जा सकता है।
सूरजमुखी के बीज




सेलेनियम केमिकल और विटामिन-ई से भरपूर ये बीज लिवर के काम करने की क्षमता को बढ़ाते हैं। ये शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल बनने से भी रोकते हैं। इसमें मौजूद मैग्नीशियम दिल को हेल्दी रखने का काम करता है। यह ब्लड प्रेशर बढ़ाने वाले केमिकल डोपामाइन डी-1 को भी कम करता है।

खीरा



इनमें मौजूद 95 प्रतिशत पानी यूरिन के माध्यम से खतरनाक केमिकल्स और एसिडिक पदार्थों को बाहर कर देता है। इसे सलाद के रूप में खाना सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है। बॉडी के लिए जरूरी पानी की कमी को ककड़ी खाकर काफी हद तक पूरा किया जा सकता है। पानी शरीर के आधे नुकसानदायक चीजों को डिटॉक्सीफाई करने का काम करता है।


No comments:

Post a Comment