Saturday, September 17, 2016

Learn More: Health-related these things



बहुत अधिक पसीना आना, होंठ, कटे-फटे नजर आना, लगातार सिर में रहना जैसे लक्षण हमें आने वाली बामारियों से आगाह करते हैं। सेहत से जुडे इन संकतों की पहचान कर बीमारियों से निपटा जा सकता है।


सिरदर्द लगातार होना
कभी-कभार सिरदर्द के कई कारण हो सकते हैं, जैसे-नींद पूरी होना, भूख लगना, तनाव आदि। अक्सर सिरदर्द हो, तोयह पेनकिलर बंद करने ेस भी हो सकता है। या फिर ट्यूमर, स्ट्रोक्स, मेनीन जाइटिस या हैमरेज की गंभीर चेतावनी भी हो सकती है।
इलाज
सिरदर्द के किसी अन्य बीमारी में परिवर्तित होनकी संभावना बहुत कम होती है। अत: ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है। अक्सर होने वाले सिरदर्द के लिए डॉक्टर को सिरदर्द की अवधि, तीव्रता, जगह और अन्य डिटेल बताकर उनकी सलाह से इलाज करवाएं।

अत्यधिक पसीना आना
पसीना आना एक प्राकृतिक क्रिया है, जो शरीर का तापमान नियमित रखने में मदद करती है, पसीना गर्मी और आद्र्रता की वजह से आता है। जब रात के वक्त ज्यादा पसीना आने लगे, तो यह शरीर में होने वाले सीरियस इंफेक्शन की ओर इशारा करता है। इसके अलावा यह कई भावनात्मक तनाव, जैसे, गुस्सा, घबराहट, शर्मिंदगी आदि के कारण भी आ सकता है।
इलाज
पसीना ज्यादा आता है या नहीं, इसकी पहचान करना बहुत मुश्किल है। अमूमन पसीना व्यक्ति की प्रकृति के अनुसार कम या ज्यादा आता है। इसका आना पानी पीने की मात्रा और शरीर की गर्मी पर भी निर्भर करता है।
यदि ऐसा महसूस हो कि पसीना बहुत ज्यादा आ रहा है। तो डॉक्टर से संपर्क करें।

पीठ दर्द
पीठ दर्द के अनेक कारण हो सकते हैं, जैसे- लंबे समय तक बैठकर काम करना, जिम में अत्यधिक वर्कआउट करना, ज्यादा वजन उठाना आदि।
कई बार स्पाइनल डिस्क के बीच में गैप हो जाता है। इससे भी दर्द होता है। स्लिप डिस्क औरसाइटिका से भी पीठ दर्द की शिकायत होती है।
इलाज
यदि अक्सर पीठ दर्द होता है तो डॉक्टर की सलाह से दर्द का कारण जानकर उपचार करवाएं।


सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


No comments:

Post a Comment