Monday, May 30, 2016

धूप में बाइक चलाते समय ज़रूर रखे


मई-जून की तपती धूप में अगर आपको बाइक या स्कूटी से ट्रैवल करना पड़ता है, ऐसे में अगर आपने लापरवाही बरती तो आप बीमार हो सकते हैं, ऐसे में खुद को सेफ रखने क्‍या सावधानी बरतें, इसके बारे में जानने के पढ़ें ये स्‍लाइडशो।

1
सनस्क्रीन लगाए



वैसे तो ये बात बताने की जरूरत अब रह नहीं गई है फिर भी धूप में बाहर निकलते समय सबसे पहले सनस्क्रीन का प्रयोग जरूर करे। सनस्क्रीन लगाए बिना बाइक और स्कूटी ना चलाएं। ये आपकी त्वचा को सूरज की अल्ट्रावायलेंट किरणों से बचाता है। सनस्क्रीन का एसपीएएफ भी चेक करना ना भूले। 15 एसपीएफ वाली सनस्‍क्रीन सूर्य की अल्‍ट्रावॉयलेट की किरणों से बचाव करती है।

2
सनग्लासेस लगाना



बाइक चलाते समय हेलमेट पहनना जितना जरूरी है ठीक वैसे ही सनग्लासेस लगाना। सनग्लासेस लगाने से और ड्राइविंग के दौरान आंखों में आने वाली धूल से भी बचाते हैं। साथ ही सूरज की किरणों से भी आपको बचाते है क्योंकि कम ही हेलमेट्स टिंटेड फाइबर के आते है। और सनग्लासेस लगाने से स्टाइल स्टेटमेंट भी तो बनाता ह

3
हेड स्कार्फ



हेलमेट को सीधे बालों पर लगाने से बालों को नुकसान पहुंचता है। हेलमेट के कारण बालों में होने वाले पसीने से बैक्टीरिया और कीटाणु जमा होते है। जबकि हेट स्कार्फ इस पसीने को सोखकर बालों को नुकसान पहुंचाने से रोकता है। ये हेलमेट और बालों के बीच में एक लेयर की तरह काम करता है। अगर गर्मी ज़्यादा हो तो आप हैड स्कार्फ को गीला करके भी बांध सकते हैं। ये आपको गर्मी से तो बचाता ही है, साथ ही स्टाइलिश लुक भी देता है।
Image Source-Getty


4
हैंड ग्‍लब्‍ज



बाइक या स्कूटी चलाते वक्त आपके हाथ सीधे धूप के संपर्क में आते है जिससे औप टैनिंग के साथ साथ सनबर्न की शिकायत भी हो सकती है। धूप में ज़्यादा एक्सपोज़ होने से स्किन संबंधी बीमारियों का भी खतरा रहता है। इसलिए धूप और गर्मी से अपने हाथों को जलाने से बचाने के लिए आप आर्टीफिशियल स्लीव्ज और ग्‍लब्‍ज को पहन सकते है। आजकल बाजार में ये कई स्टाइल में उपलब्ध है। आप चाहे को प्रिटेंड या प्लेन गलव्ज ले सकते है।

5
जूते पहनें



गर्मियों मे जूते पहनना अच्छा तो नहीं लगता पर धूप से बचने के लिए ये एक बेहतर तरीका होता है। हाथों के अलावा पैर भी धूप के सीधे संपर्क में रहते है। कई बाइकर्स पैरों के आस-पास रफ स्किन होने की शिकायत करते हैं, असल में सड़कों की सतह नैचुरली हीट सोखती है और गर्म हो जाती है। इसके साथ ही आपके टू-व्हीलर का इंजन भी हीट जनेरेट करता है। दोनों मिलकर आपके पैरों का बुरा हाल कर देते हैं।

























































सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


1 comment: