Monday, April 11, 2016

अनार के छिलकों से बना फेसपैक



उम्र के असर को बेअसर करें अनार के छिलकों से बना फेसपैक



एंटीऑक्‍सीडेंट और विटामिन से भरपूर मात्रा की मौजूदगी के कारण अनार को एक लोकप्रिय सुपर फूड माना जाता है। इस फल के रस का सेवन करने से कई रोगों और त्‍वचा संबंधी कई समस्‍याओं से छुटकारा मिलता है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं इस फल के छिलके भी हमारे शरीर और त्‍वचा के लिए फायदेमंद होते है। अनार के छिलकों से आप अपनी उम्र के असर को भी बेअसर कर सकते हैं।

क्‍या आप अपने चेहरे पर आने वाली झुर्रियों से परेशान हैं तो घबराए नहीं क्‍योंकि अनार के छिलकों से बना फेस पैक आपकी इस समस्‍या में कारगर होता है। अनार की तरह अनार के छिलके में भी अनार में अधिक मात्रा में विटामिन ए, ई और सी होता है। ये विटामिन बढ़ती उम्र के लक्षणों को जल्दी आने से रोकते हैं। ये त्वचा की महीन रेखाओं और झुर्रियों को जल्‍द नहीं आने देता।



क्‍यों असरकार है अनार का छिलका

अनार के छिलके में एंटी-माइक्रोबिल और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते है जो त्‍वचा संक्रमण में असरदार रूप से काम करता है। साथ ही एंटीऑक्सीडेंट गुण त्वचा के लिए एस्ट्रिजेंट जैसा काम करता है। ये त्वचा के रोमछिद्र और त्वचा को टाइट करके बढ़ते उम्र के लक्षणों को कम करता है। इसके अलावा अनार के छिलके त्वचा में मौजूद कोलाजन को क्षति पहुंचने से बचाते हैं, जिससे त्वचा पर झुर्रियां नहीं पड़ती हैं।


अनार के छिलके का पैक
अनार के छिलके को सूखाकर उसका पाउडर बना लें।
अब इस पाउडर में 2 बड़े चम्‍मच मलाई या क्रीम और एक बडा़ चम्‍मच बेसन मिलायें।
सब चीजों को अच्‍छी तरह मिलाकर चेहरे और गर्दन पर लगा लें।
15-20 मिनट इसे ऐसे ही लगा रहने दें, फिर इसे गुनगुने पानी से धो लें।
या आप चाहे तो अनार के छिलके के पाउडर में गुलाबजल डालकर भी पेस्ट बना सकते हैं।
अगर जरूरत महसूस हो तो मॉश्चराइजर लगा लें।

इस फेस पैक को हफ्ते में दो बार लगायें, कुछ ही दिनों में आपको अपने चेहरे पर फर्क महसूस होने लगेगा।



















सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


No comments:

Post a Comment