Monday, June 1, 2015

हर्बल टी पीयें और रहें स्वस्थ और तरोताज़ा

हर्बल टी पीयें और रहें स्वस्थ और तरोताज़ा 

आप घरेलू जड़ी-बूटियों से बनी हर्बल टी आसानी से घर पर बना सकते हैं। इनके गुणों से कई रोगों में लाभ और आराम मिलता है।
अपच में जिंजर टी पिएं
मोशन न बनने की वजह से पेट में अपच, एसिडिटी, जी मिचलाना और उल्टी की तकलीफ हो तो जिंजर यानी अदरक वाली चाय पी सकते हैं। इसके लिए अदरक के एक टुकड़े को करीब 10 मिनट पानी में उबालें, फिर गैस से उतारकर इसमें नींबू का रस और शहद मिलाकर पिएं। इससे सर्दी-जुकाम में भी लाभ होगा।
इलायची-सौंफ की चाय
पेटदर्द और अपच की परेशानी में यह फायदेमंद है। एक चौथाई छोटा चम्मच इलायची पाउडर, आधा छोटा चम्मच सौंफ और एक टुकड़े अदरक को एक कप पानी में 10 मिनट के लिए उबालें। जरूरत के हिसाब से इसमें दालचीनी का छोटा टुकड़ा भी मिला सकते हैं।
तुलसी-चाय से लाभ
एक कप पानी में अदरक का छोटा टुकड़ा, 10 तुलसी के पत्ते, एक लौंग, तीन काली मिर्च और दालचीनी का टुकड़ा डालकर उबाल लें। जरूरत के अनुसार इसमें थोड़ा शहद भी मिलाया जा सकता है। सर्दी-जुकाम की तकलीफ के अलावा सिरदर्द, सीने में दर्द और पेट में भारीपन जैसी समस्याओं में यह चाय काफी असरदार होती है।
नोट : हर्बल टी में चायपत्ती की जरूरत नहीं होती है। गर्मी के इस मौसम में दूध, चायपत्ती और चीनी से बनी चाय का अधिक प्रयोग न करें वर्ना डिहाइड्रेशन (शरीर में पानी की कमी) की समस्या हो सकती है।



रोचक जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 

No comments:

Post a Comment