Thursday, May 21, 2015

गर्मियों में "गन्ने का जूस" रखे तरोताज़ा और रखे बीमारियों से दूर

गर्मियों में "गन्ने का जूस" रखे तरोताज़ा और रखे बीमारियों  से दूर 

 गर्मियों में लोग गन्ने का जूस बहुत ज़्यादा पीते हैं। इसकी वजह भारत में होने वाली गन्ने की बहुतायत पैदावार है। स्वाद के साथ-साथ गन्ने के जूस में सेहत के लिए बहुत सारे फायदेमंद तत्व शामिल हैं। इसमें कैल्शियम, क्रोमियम, कोबाल्ट, कॉपर, मैग्नीशियम, मैंगनीज, फॉस्फोरस, पोटैशियम और जिंक शामिल हैं। इसके अलावा इसमें विटामिन ए, बी1, बी2, बी3, बी5, बी6 और सी के साथ ही एंटी-ऑक्सीडेंट्स, प्रोटीन्स और भोजन को आसानी से पचाने वाले फाइबर्स भी मौजूद हैं।
एनर्जी देता है
गर्मियों में गन्ने का जूस इसलिए भी पसंद किया जाता है, क्योंकि इसे पीने से तुरंत एनर्जी मिलती है। गन्ने का जूस ग्लूकोज का बहुत ही अच्छा स्रोत होता है, जिससे ये बॉडी को हाइड्रेट रखने के साथ ही एनर्जी बूस्टर का भी काम करता है। तो किसी भी पैकेज्ड जूस को पीने से बेहतर है रोजाना एक गिलास गन्ने का जूस पीना।
डायबिटीज से रखे दूर
गन्ने के जूस में पहले से ही चीनी की बहुत ज्यादा मात्रा मौजूद होती है, लेकिन फिर भी ये डायबिटीज के रोगियों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है, क्योंकि इसकी मिठास का कारण नेचुरल शुगर है जो ग्लाइसेमिक इन्डेक्स के साथ ही ब्लड में ग्लूकोज की मात्रा को भी कंट्रोल करता है। टाइप-2 डायबिटीज के मरीजों को गन्ने के रस का सेवन जरूर करना चाहिए।
कैंसर से बचाए
गन्ने के जूस में मौजूद कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटैशियम, आयरन और मैंगनीज बॉडी में एक एल्काइन के रूप में काम करता है। जिससे कैंसर की बीमारी होने का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है। रिसर्च में भी इस बात को माना गया है कि गन्ने का जूस पीने से बॉडी में कैंसर जनित वायरस होने का खतरा कम हो जाता है और महिलाओं में सबसे ज्यादा होने वाले ब्रेस्ट और प्रोस्टेट कैंसर की संभावना भी कम हो जाती है।
किडनी सुरक्षित रखता है
गन्ने का जूस बॉडी में प्रोटीन लेवल की मात्रा को कंट्रोल करता है, जो किडनी की सेहत के लिए बहुत ही जरूरी है। गर्मियों के मौसम में महिलाओं में होने वाले यूरिनरी टैक्ट इन्फेक्शन, एसटीडी बीमारी और जलन जैसी समस्या को गन्ने का जूस पीकर दूर किया जा सकता है। और-तो-और, खराब खाने-पीने का सबसे ज्यादा असर किडनी पर पड़ता है जिससे कई प्रकार की बीमारियां घर कर लेती हैं। इन सबसे छुटकारा पाने के लिए गन्ने का जूस बहत ही लाभदायक होता है।
















एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर
गन्ने का जूस एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है, जो कई प्रकार के इन्फेक्शंस से लड़कर बॉडी की इम्यूनिटी सिस्टम को सही रखता है। लिवर को इन्फेक्शन से बचाने के साथ ही बिलरूबिन के लेवल को कंट्रोल करता है। पीलिया रोग के मरीज को डॉक्टर गन्ने का जूस पीने की सलाह देते हैं।
पाचन सही रखता है
गन्ने के जूस में पोटैशियम की मात्रा पाचन शक्ति को सही रखने में सहायक है। पेट को कई प्रकार के इन्फेक्शंस से बचाने के साथ ही उसे कैंसर, गैस, अपच, पेट की जलन, मरोड़ आदि से भी दूर रखता है।
दांतों की समस्या से रखे दूर
सांसों की बदबू की समस्या हो या मसूडों में दर्द, यहां तक कि दांतों से संबंधित किसी भी प्रकार की बीमारी को दूर करने में गन्ने का जूस बहुत ही कारगर है। दांतों की सेहत के साथ ही उसकी चमक बरकरार रखने के लिए इसका जूस पीना बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है।
दाग-धब्बों से छुटकारा
हेल्दी स्किन के लिए अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड बहुत ही फायदेमंद होता है। ये कील-मुहांसों को दूर करने के साथ ही स्किन को हाइड्रेट रखने का काम करता है। इससे असमय दिखने वाले बुढ़ापे को दूर किया जा सकता है। इसके जूस को चेहरे पर लगाने से त्वचा से संबंधित कई प्रकार की समस्याएं दूर होती हैं। इसे मास्क और स्क्रब के तौर पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
नाखूनों को मजबूत बनाता है
कैल्शियम की कमी से सिर्फ हड्डियां ही कमजोर नहीं होतीं, बल्कि हाथ-पैर के नाखून भी बहुत जल्दी टूट जाते हैं। इससे पैरों की खूबसूरती खराब होने लगती है। तो अगर नाखूनों के बीच सफेद धब्बे पड़ रहे हों या उनकी सफेदी गायब हो रही हो, तो गन्ने का जूस पीकर इससे निजात पाया जा सकता है।

No comments:

Post a Comment