Thursday, May 21, 2015

थायराइड खत्म करे और मिटाये अन्य रोग " पालक "

थायराइड खत्म करे और मिटाये अन्य रोग " पालक "

पालक एक पत्तियों वाली भाजी है जो अपने गुणकारी असर के चलते पूरे भारत में मशहूर है। देश भर में इसकी खेती की जाती है और इसे बड़े चाव से खाया जाता है। इसका वानस्पतिक नाम स्पीनेसिया ओलेरेसिया है। पालक में विटामिन `ए´ `बी´ `सी´ और `ई´ के अलावा प्रोटीन, सोडियम, कैल्शियम, फास्फोरस, क्लोरीन, थायामिन, फाइबर, राइबोफ्लैविन और आयरन आदि पाए जाते हैं। आदिवासी इसे अनेक हर्बल नुस्खों के तौर पर अपनाते हैं। आज जानते हैं पालक से जुड़े हर्बल नुस्खों के बारे में।

थायरॉयड खत्म करने के लिए
थायरॉयड में एक प्याला पालक के रस के साथ एक चम्मच शहद और चौथाई चम्मच जीरे का चूर्ण मिलाकर पीने से लाभ होता है।

2-कोलायटिस और बाल की समस्या के लिए
डांग- गुजरात के आदिवासियों के अनुसार ककड़ी, पालक और गाजर की समान मात्रा लेकर उसका जूस तैयार कर पीने से बालों का बढ़ना शुरू हो जाता है। 
कोलायटिस की समस्या में पालक और पत्तागोभी के पत्तों का का रस कुछ दिनों तक पीने से आराम मिल जाता है।
3- ब्लड प्रेशर और अस्थमा के लिए
लो ब्लडप्रेशर के रोगियों को प्रतिदिन पालक की सब्जी खानी चाहिए। यह रक्त बढ़ाने के साथ ही रक्त प्रवाह को नियंत्रित करने में मदद करता है।


पालक के एक गिलास जूस में स्वादानुसार सेंधा नमक मिलाकर पीने से दमा और श्वास रोगों में काफी लाभ मिलता है। 

4-श्वास और मुंह की बदबू दूर करने के लिए
पालक के एक गिलास जूस में स्वादानुसार सेंधा नमक मिलाकर पीने से दमा और श्वास रोगों में काफी लाभ मिलता है। 


हृदय रोगियों को प्रतिदिन एक कप पालक के जूस के साथ 2 चम्मच शहद मिलाकर लेना चाहिए। ये बहुत गुणकारी होता है। 


पातालकोट के आदिवासी पालक के जूस से कुल्ला करने की सलाह देते हैं। उनके अनुसार, ऐसा करने से दांतो की समस्याओं में आराम मिलता है और मुंह की बदबू दूर हो जाती है।

No comments:

Post a Comment