Tuesday, April 14, 2015

# ताम्रजल

अमृततुल्य है "ताम्रजल"

          ताम्बे के बर्तन में कम से कम आठ घंटे तक रखा हुआ पानी पीने से शरीर के कई दोष दूर होते हैं। यह पानी पीने से शरीर के जहरीले तत्व बाहर निकल जाते हैं। जिन्हें कफ की अधिक समस्या रहती है उन्हें इस पानी में तुलसी के कुछ पत्ते डाल कर रखने चाहिए।









No comments:

Post a Comment