Monday, April 20, 2015

फलों का राजा "आम"

फलों का राजा "आम"

गर्मियों का मौसम आते ही सबसे पहले आम की याद आती है। आम को फलों का राजा कहा जाता है, गर्मियों में आने वाले इस फल के फलेवर की कई हेल्थ ड्रिंक्स भी हर मौसम में उपलब्ध रहती है, लेकिन घर में बने मैंगो शैक की बात ही अलग है। आम खाने से कई तरह के फायदे तो होते ही हैं, लेकिन ये आपकी स्किन के लिए भी बहुत अच्छा होता है। जानिए आम के फायदे-
कैंसर और आंखों की रोशनी
आम एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होते हैं, जिससे ये ब्रेस्ट कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर और कोलोन कैंसर से बचाता है। आम ल्यूकेमिया को रोकने में भी मदद करता है। आम में प्रचुर मात्रा में विटामिन ए पाया जाता है, जो आंखों की रोशनी बढ़ाता है।
इम्यूनिटी
आम में 25 तरह के करोटेनॉइड्स पाए जाते हैं, जो विटामिन सी से भरपूर होते हैं। इसी के चलते आम खाने से इम्यूनिटी सिस्टम दुरस्त बना रहता है और बीमारियां आसानी से आपके शरीर को नहीं जकड़ पाती है।
डैंड्रफ
आम में पाए जाने वाला विटामिन ए डैंड्रफ से लड़ने में सक्षम है। इसे सामान्य तौर पर हेयर मॉस्चराइजर के रूप में आप में लिया जाता है। इसमें पाया जाने वाला विटामिन ई स्कैल्प सर्कुलेशन को बेहतर करता है और बालों की ग्रोथ बढ़ाता है।
शाइनी बाल
बालों को कंडिशन करने के लिए आम के पल्प में एक चम्मच दही और 2 चम्मच शहद मिला लें। फिर इसे बालों में लगाकर 30 मिनट तक रखें, इसके बाद बाल धो लें। ये मिश्रण आपके बालों को सॉफ्ट और शाइनी बना देगा।

ब्लैकहेड्स रिमूवर
आम से बने स्क्रब को लगाने से ब्लैकहेड्स की समस्या से निजात मिलता है। इसके लिए एक चम्मच आम के पल्प में आधा चम्मच दूध और शहद मिला लें। इस पेस्ट को अपने चेहरे पर सर्कल्स में रब करें। इससे आपके चेहरे की डेड स्किन और ब्लैकहेड्स रिमूव होते हैं और चेहरे पर ग्लो आता है।
होममेड मैंगो फेसवॉश
आम से बना होममेड फेसवॉश आपकी स्किन को क्लीन करता है। इसके लिए 1 चम्मच आम के पल्प में थोड़ा बादाम का पाउडर और 1 चम्मच दूध मिलाकर पीस लें। फिर इसे चेहरे पर लगाएं और 20 मिनट बाद चेहरा धो लें। ये फेसवॉश हर तरह की स्किन को सूट करता है।
रंग संवारे
आम में पाए जाने वाला विटामिन ए स्किन के लिए बहुत फायदेमंद है। साथ ही इससे स्किन कॉम्लैक्शन भी सुधरता है और टैनिंग दूर होती है। इसके लिए चेहरे और हाथों पर कच्चे आम को रब करें और थोड़ी मलाई लगा लें। 10-15 मिनट बाद इसे ठंडे पानी से धो लें। हफ्ते में 2-3 बार इस एप्लाई करने से टैनिंग निकल जाती है।


रोचक जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 


खून की कमी दूर करे "अनार"

खून की कमी दूर करे "अनार"

अनार जितना टेस्ट में अच्छा होता है, उतना ही फायदेमंद भी होता है। रोज एक अनार से आपकी बॉडी में खून की कमी दूर हो जाती है। अनार केवल आपको हेल्दी ही नहीं रखता, बल्कि ये आपकी स्किन के लिए भी बहुत अच्छा होता है। जानिए अनार के फायदे-
दिल की सुरक्षा
अनार दिल के लिए अमृत का काम करता है। ये धमनियों को लचीला बनाता है और रक्त वाहिकाओं की परत में सूजन को कम करता है। अनार से धमनियों में ब्लॉकेज की जोखिम कम हो जाती है।
ब्लड प्रेशर
अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है तो अनार खाएं। अनार का रस दिल के रोगियों में रक्त वाहिकाओं की सूजन को कम करता है। ये एक प्राकृतिक एस्पिरिन है। अनार खून की कमी को दूर करता है।




रोचक जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 

एनिमिया
एनिमिया शरीर में खून की कमी के कारण होता है। अनार में आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जो खून की कमी को दूर करता है। कुछ लोगों को गर्मियों में नाक से खून आने की समस्या होती है, इससे बचने के लिए अनार के रस में थोड़ी सी चीनी डालकर नाक में डालने से खून आना तुरंत बंद हो जाता है।
जवां बनाए
स्किन में झुर्रियां फ्री रेडिकल के डेमेज से पड़ती है। अनार में पावरफुल एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है, जो एजिंग प्रोसेस को धीमा कर देता है। रोज एक अनार खाने से आपकी स्किन ग्लोइंग और जवां रहती है। साथ ही इससे तनाव भी कम होता है।
कैंसर
अनार हर तरह के कैंसर जैसे प्रोस्टेट कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर, लंग कैंसर और स्किन कैंसर की जोखिम कम करने में फायदेमंद है। इसमें पॉलीफेनल एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है। कुछ शोधों के मुताबिक अनार का रस ट्यूमर सेल्स के विकास को रोकता है और उन्हें प्राकृतिक रूप से खत्म कर देता है।

तरबूज के फायदे

तरबूज के फायदे

गर्मी के मौसम में ऎसे कई फल आने लगते हैं जो आपकी बॉडी को हाईड्रेट रखते हैं और पानी की कमी से बचाते हैं। उनमें से एक मुख्य फल है तरबूज। तरबूज तो आपकी सेहत के लिए फायदेमंद है ही, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसे खाते हुए जो बीज आप फेंक देते उनमें भी सेहत के अनोखे राज छिपे हैं। जानिए तरबूज के बीज के फायदे-
ब्लड प्रेशर
तरबूज के बीज मैग्नीशियम का अच्छा सोर्स है। 100 ग्राम बीज आपकी एक दिन की जरूरत के हिसाब से 139 फीसदी मैग्नीशियम प्रोवाइड करते हैं। मैग्नीशियम दिल और ब्लड प्रेशर (बीपी) को सामान्य रखता है। ये दिल संबंधी रोगों और हाइपरटेंशन जैसी समस्या की जोखिम कम कर देते हैं।
इम्यूनिटी
विटामिन बी से भरपूर तरबूज के बीज इसके अन्य सप्लीमेंट्स को रिप्लेस कर सकते हैं। विटामिन बी हेल्दी ब्लड, नर्वस सिस्टम और इम्यूनिटी सिस्टम को बेहतर बनाता है। इससे शरीर स्वस्थ रहता है और बीमारियां दूर रहती हैं।



रोचक जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 


डायबिटीज
डायबिटीज के इलाज में भी तरबूज के बीज फायदेमंद हैं। इसके लिए एक मुठ्ठी बीज को 1 लीटर पानी में करीब 45 मिनट तक उबालें। इस दौरान बर्तन पर ढक्कन लगा के रखें। इस मिश्रण को रोजाना चाय की तरह लें। इससे डायबिटीज में राहत मिलती है।
चेहरे की गंदगी हटाए
तरबूज के बीज में पाया जाने वाला ऑयल चेहरे की गंदगी हटाता है। ये स्किन के पोरों को क्लीन करके उसे फ्रेश बनाता है और मुंहासों की समस्या दूर करता है। तरबूज के बीज सभी स्किन टाइप के लिए उपयुक्त रहते हैं।
बाल झड़ना कम करें
तरबूज के बीज का तेल बालों को फैटी एसिड देता है, जो आपके बालों के लिए जरूरी है। इससे बाल मॉस्चराइज रहते हैं और बाल झड़ना व रूखे बाल की समस्या से निजात मिलता है।

Saturday, April 18, 2015

सौंफ है स्वास्थ्य के लिए लाभकारी

सौंफ है स्वास्थ्य के लिए लाभकारी

             भारतीय रसोई घर में सौंफ का महत्वपूर्ण स्थान है। सौंफ का उपयोग न सिर्फ कुछ खास व्यंजनों में किया जाता है, बल्कि भोजन के बाद भी सौंफ बहुत शौक से खाई जाती है। खाने के बाद थोड़ी सी सौंफ खाने से कैल्शियम, सोडियम, फास्फोरस, आयरन और पोटेशियम जैसे तत्व हमारे शरीर को प्राप्त होते हैं। पेट से संबंधित कुछ बीमारियों में भी सौंफ के कुछ घरेलू नुस्खे बहुत कारगर साबित होते हैं। आज हम आपको सौंफ के कुछ खास टिप्स बता रहे हैं-
             1. प्रतिदिन 5-6 ग्राम सौंफ खाना लिवर और आंखों के लिए फायदेमंद होता है। अपच संबंधी विकारों में भी सौंफ का सेवन बेहद उपयोगी है। सौंफ को तवे पर थोड़ा-सा सेंक कर खाने से पेट के रोगों में आराम मिलता है।
           2.   गुड़ के साथ सौंफ खाने से महिलाओं का मासिक धर्म नियमित होता है। यदि गले में खराश हो जाए तो सौंफ चबाना चाहिए। सौंफ चबाने से बैठा हुआ गला साफ हो जाता है। 

             3. रोजाना सौंफ खाने से खून साफ होता है व रक्त से संबंधित बीमारियों में लाभ होता है। खून साफ होने से त्वचा में भी चमक आ जाती है।

            4. सौंफ के अर्क में 10 ग्राम शहद मिला कर इसका सेवन करें। खांसी में तत्काल आराम मिलेगा।
            5. बेल का गूदा 10 ग्राम और 5 ग्राम सौंफ सुबह-शाम चबाकर खाने से अजीर्ण मिटता है और अतिसार में लाभ होता है।

           6. सौंफ और मिश्री समान भाग में लेकर पीस लें। इसकी एक चम्मच मात्रा सुबह-शाम पानी के साथ दो माह तक लें। इससे आंखों की कमजोरी दूर होती है तथा नेत्र ज्योति में वृद्धि होती है।

Thursday, April 16, 2015

सौन्दर्यवर्धक "नारंगी"

सौन्दर्यवर्धक "नारंगी"

              आमाशय, यकृत, पीलिया, आँतों की सफाई, हृदय और दाँतों के रोग, मानसिक थकावट, खुश्की, सुस्ती,प्यास अधिक लगना, चेहरे पर अधिक फुंसियाँ होना आदि विकारों को दूर करने के लिए लम्बे समय तक नित्य नारंगी खाएं या रस पियें। स्वाद बढ़ने हेतु चीनी या मिश्री, सौंठ डाल सकते हैं। नारंगी के छिलके सुखा कर पीस लें। इसमें पानी मिलाकर चेहरे पर मलने से त्वचा मुलायम और सुन्दर होती है। ज्वर में नारंगी खाना या रस पीना लाभदायक है। हृदय की दुर्बलता दूर करने के लिए नारंगी का शर्बत लाभदायक है। अपच दूर करने हेतु नारंगी की कलियों पर पिसी हुई सौंठ और काला नमक डाल कर नित्य खाएं।



रोचक जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 

गर्मियों का उपहार "नीबू"

गर्मियों का उपहार "नीबू "

               नीबू का प्रधान कार्य शरीर में व्याप्त विषों को बाहर निकलना है। यह मुँह के स्वाद को ठीक करके भोजन के प्रति रुचि पैदा करता है तथा रक्त शुद्ध कर त्वचा को नवीन आभा देता है। नीबू से मिलने वाला विटामिन 'ए' नेत्र के विकार ठीक करता है,विटामिन 'बी' पाचन शक्ति बढ़ाता है, और विटामिन 'सी' रक्त विकारों को ठीक करता है। नीबू को पानी में निचोड़ कर प्रातः भूखे पेट पीना ज्यादा लाभदायक है। नीबू में सेंधा नमक भरकर नित्य चूसने से पथरी में लाभ होता है। यदि धूप से रंग काला होता है तो आधा कप दूध में आधा नीबू निचोड़ कर मिलाकर चेहरे व हाथ - पैरों पर लगाने से धूप से जलने के दुष्प्रभाव नष्ट हो जाते हैं। गर्मियों में नीबू  प्यास बुझाने के लिए अधिक उपयोगी है।



रोचक जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 

Wednesday, April 15, 2015

# गुर्दों (Kidney) के लिए लाभकारी हरा धनिया

गुर्दों (Kidney) की सफाई में उपयोगी "हरा धनिया"

               लगभग 50 ग्राम हरा धनिया अच्छी तरह धोकर बारीक़ काट लें और इसे एक गिलास पानी में डालकर 10 मिनट तक उबाल लें। इसे ठंडा होने पर छान कर पी लें, प्रतिदिन ऐसा करने से गुर्दों (Kidney) की सफाई हो जाती है तथा गन्दगी मूत्र के साथ बाहर निकल जाती है। यह प्रयोग किसी भी समय कर सकते हैं।







# गुणकारी मिर्च

छोटी "मिर्च" के बड़े गुण 

               हरी  मिर्च में एंटीऑक्सीडेंट होता है जो कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाता है और कैंसर से लड़ने में मदद करता है। इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन - सी होता है जो कि प्राकृतिक प्रतिरक्षा में सुधार करता है तथा बिमारियों से रक्षा करता है।









# सर्दियों का तोहफा मटर

प्रोटीनयुक्त "मटर"
               मटर के एंटीऑक्सीडेंट शरीर को स्वस्थ रखने में सहायक होते हैं। इसमें प्रोटीन तथा उच्च फाइबर पाया जाता है जो शरीर में शुगर की मात्रा को नियंत्रित करता है, अतः मधुमेह के रोगियों के लिए यह अत्यंत लाभप्रद है।






# शहद

पाचनशक्ति बढ़ाए "शहद"

               प्रतिदिन शहद का सेवन करने से शरीर में शक्ति तथा स्फूर्ति बनी रहती है। शहद शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढाता है, खून साफ़ करता है तथा पाचनशक्ति बढ़ाता है।






# सर्दियों का तोहफा मूंगफली

पोषण से भरपूर "मूंगफली"

मूंगफली में ज़िंक जैसे पोषक तत्व के साथ - साथ भरपूर मात्रा में वसीय अम्ल पाये जाते हैं। इसके सेवन से कमजोरी दूर होकर शरीर पुष्ट होता है।





Tuesday, April 14, 2015

# शिमला मिर्च

गुणों से भरपूर "शिमला मिर्च"

            शिमला मिर्च में एक प्रमुख रसायन के तौर पर पाया जाने वाला लायकोपिन रसायन शारीरिक तनाव और डिप्रेशन जैसी समस्याओं को दूर करने में सहायक होता है। आधुनिक शौधों से ज्ञात होता है कि शिमला मिर्च शरीर की मेटाबॉलिक क्रियाओं को सुनियोजित करके ट्राइग्लिसराइड को कम करने में मदद करती है तथा कोलेस्ट्रोल भी काम करती है।







# ताम्रजल

अमृततुल्य है "ताम्रजल"

          ताम्बे के बर्तन में कम से कम आठ घंटे तक रखा हुआ पानी पीने से शरीर के कई दोष दूर होते हैं। यह पानी पीने से शरीर के जहरीले तत्व बाहर निकल जाते हैं। जिन्हें कफ की अधिक समस्या रहती है उन्हें इस पानी में तुलसी के कुछ पत्ते डाल कर रखने चाहिए।









Monday, April 13, 2015

#कच्चा केला

"कच्चा केला"

               कच्चा केला विटामिन तथा खनिज का उच्च स्रोत है। कच्चे केले को सब्जी काफी पौष्टिक होती है तथा इसके सेवन से दस्तों तथा पेचिश में भी लाभ होता है। केले की सब्जी बहुत कम तेल में बनानी चाहिए, तलकर तो कदापि नहीं।







#दुर्बलता दूर करे "केला"

दुर्बलता दूर करे "केला"

               प्रतिदिन दो पके केले खाकर ऊपर से गर्म दूध पीलें। यह प्रयोग लगातार एक माह तक करने से दुबलापन दूर होकर शरीर बलिष्ठ बनता है।






#हृदय हेतु लाभकारी चीकू

हृदय हेतु लाभकारी चीकू 

          चीकू हमारे हृदय तथा रक्तवाहिनियों के लिए अत्यंत लाभदायक होता है। यह हृदय तथा गुर्दों के रोग होने से रोकता है तथा खून की कमी दूर करता है। चीकू का सेवन भोजन के एक घंटे पश्चात् करना अधिक लाभकारी होता है।










#हिचकी

हिचकी

             अधिक हिचकी आने पर एक गिलास छाछ में आधी चम्मच सौंठ का चूर्ण डालकर पीने से लाभ होता है।







Sunday, April 12, 2015

# काली मिर्च के फायदे

गुणों से भरपूर "काली मिर्च"

              काली मिर्च एक अनुपम औषधि है। यह पाचन क्रिया में सहायक होती है तथा इसके सेवन से रक्त संचार सुधरता है। यह एक बेहतरीन एंटीऑक्सीडेंट है।






#गुणकारी मेवे

भिगोकर खाएँ "मेवे"

मेवों को हमेशा भिगोकर खाना चाहिए। ऐसा करने से शरीर मेवों में मौजूद विटामिन्स तथा अन्य पौषक तत्वों को आसानी से ग्रहण कर लेता है तथा वह आसानी से पच जाते हैं।






#प्याज के गुण

दर्दनिवारक प्याज

               प्याज में पाया जाने वाला गंधक जोड़ों में दर्द पैदा करने वाले एन्जाइम्स की उत्पत्ति को रोकता है तथा इसमें पीड़ानाशक गुण होते हैं। प्याज में phytochemicals भी पाये जाते हैं जो हमारे इम्यून सिस्टम को ताकतवर बनाते हैं।