Wednesday, January 30, 2019

पेट की चर्बी कम करने के उपाय

पेट की चर्बी कम करने के उपाय 


कुछ बातों को नजर अंदाज करनेसे पेट बाहर निकल जाता है, जिससे पूरे शरीर का आकार खराब दिखने लगता है। आइए, जानें कि पेट को सुडौल कैसे बनाया जाए-अक्सर हम सभी के मन में सवाल उठता है कि खाने की तलब को कैसे कंट्रोल किया जाए। या फिर यह कैसे मुमकिन है कि हम पसंद का खाएं और फिर भी वजन न बढे। 

आपके इन सवालों का जवाब हमारे पास है। कुछ बातों कोनजरअंदाज करने से पेट बाहर निकल जाता है, जिससे पूरे शरीर का आकार खराब दिखने लगता है। 

सप्ताह में 1 बार पेट पर उबटन लगा कर स्नान करें। इस से पेट की त्वचा में कसाव आता है।

बादी पैदा करने और चरबी बढाने वाली चीजें अधिक मात्रा में खाने से भी पेट का आकार बेडौल होता है। इस तरह का खाना खातौर पर रात में न खाएं।

व्यायाम  के बाद प्यास लगने पर अधिक मात्रा में पानी पीना भी पेट के आकार को बिगाडता है। कम से कम 15-20 मिनट रूक कर पानी पीएं।

खाना खाता समय पानी न पीएं। भोजन के करीब आधे घंटे कुनकुना पानी पीएं।





















सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


Tuesday, January 29, 2019

सुंदर बनने के लिए कुछ घरेलु उपाय

सुंदर बनने के लिए कुछ घरेलु उपाय 

सुंदरता एक अनोखा व दुर्लभ तोहफा होता है जिसकी भी झोली में आता है वह खुशनसीब होता है, इसी खूबसूरती के चलते आए दिन लोग अच्छे अच्छे उपाय इस्तेमाल करते है, तो कभी सुंदरता के लिए ब्यूटी ट्रीटमेंट लेते है जिससे कई लोगों को बीमारी व स्किन डैमेज का शिकार होना प़डता है, तो अच्छा रहेगा की केमिकल फ्री प्रोडक्ट इस्तेमाल करे, इसीलिए आज हम आपके लिए कुछ ऎसे नेचुरल स्Rब व नेचुरल ब्लीच लाएं है जिनसे आप किसी भी बिमारी के संपर्क में नही आएंगे ।

नेचुरल ब्लीच

आज के वक़्त में लडकिया खूबसूरत दिखने के लिए क्या क्या नहीं करती, लेकिन असली खूबसूरती वही होती है जो नेचुरल हो, केमिकल ब्लीच से बचने के लिए बेहतर रहेगा की आप घर की बनी ब्लीच का इस्तेमाल करें , घर की ब्लीच बनाने के लिए निम्बू और शहद को बराबर मात्रा में मिलाएं फिर साफ़ चेहरे पर इस मिश्रण को लगाएं और 15 मिनट बाद ठन्डे पानी से चेहरा धो लें। 3 से 4 बार हफ्ते में इस्तेमाल करें इससे आपका चेहरा बेदाग व आकर्षक लगने लगेगा।

स्क्रबिंग के लाभ

बड़ी बड़ी ग्रंथों में उबटन के लाभ लिखें गए है, उबटन स्क्रबिंग का सबसे अच्छा स्त्रोत होता है, उबटन में क्लींजिंग, स्किन टॉनिक व नौरिश्मेंट के गुण होते है जिससे त्वचा में कसाव व चमक आती है, रोए कम होते है और रक्त का संचार बढ़ता है।

फेशियल मसाज स्क्रब

केमिकल फेशियल करवाने से अच्छा रहेगा की आप घर का बना फेसिअल पैक इस्तेमाल करें, घर का फेशियल पैक बनाने के लिए इन चीज़ो की खास ज़रूरत होती है, 1 छोटा चमच बादाम का पेस्ट, 1 छोटा चमच काजू का पेस्ट, 1/2 छोटा चमच पिस्ता पेस्ट, 1 छोटा चमच मलाई, 1 छोटा चमच गुलाबजल, 1/4 कप मसूर की दाल के पेस्ट को मिलाकर बनाएं और चेहरे के खुले हिस्सों में लगाएं और 10 मिनट के स्क्रब करने के बाद चेहरा साफ़ कर लें, इससे आपके चेहरे की मृत कोशिकाएं खत्म हो जाएंगी और स्किन अतिरिक्त सांस ले सकेंगी जिससे त्वचा पर निखार व कसाव आएगा।

होम मेड मास्क

घर के मास्क को बनाने के लिए 2 बड़े चमच चीनी व 1 चमच संतरे का रस मिलाकर गरम करें, चीनी के पिघते ही आंच से उतार लें और गुनगुना ठंडा होने दें, फिर इसमें शहद और बादाम के तेल या फिर सुन फ्लावर आयल की कुछ बूँदें मिलाएं, फिर इसे साफ़ चेहरे, गर्दन और पीठ के ऊपरी हिस्से पर लगाएं और 20 मिनट के लिए लगे रहने दें फिर गुनगुने पानी से धो दें इससे आपको मेच्योर स्किन का आभास होगा व स्किन खिली खिली रहेगी।


सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


Saturday, January 6, 2018

घरेलु उपाय

Gharelu Tips For Health


1. रोज खाने के बाद छाछ पीने से कोई रोग नहीं होता है और चेहरे पर लालिमा आती है।
2. छाछ में हींग, सेंधा नमक व जीरा डालकर पीने से हरतरह के रोग दूर हो जाते हैं।
3. नीम के सात पत्ते खाली पेट चबाने से डायबिटीज दूर हो जाती है।
4. 20 ग्राम गाजर के रस में 40 ग्राम आंवला रस मिलाकर पीने से ब्लड प्रेशर और दिल के रोगों में अाराम मिलता है।
5. बेसन में थोड़ा सा नींबू का रस, शहद और पानी मिलाकर लेप बनाकर लगाने से चेहरा सुंदर और आकर्षक लगता है।
6. मक्खन में थोड़ा सा केसर मिलाकर रोजाना लगाने से काले होंठ भी गुलाबी होने लगते हैं।
7. मुंह की बदबू से परेशान हों तो दालचीनी का टुकड़ा मुंह में रखें। मुंह की बदबू तुरंत दूर हो जाती है।
8. लहसुन के तेल में थोड़ी हींग और अजवाइन डालकर पकाकर लगाने से जोड़ों का दर्द दूर हो जाता है।
9. लाल टमाटर और खीरा के साथ करेले का जूस लेने से मधुमेह दूर रहता है
10. अजवाइन को पीसकर उसका गाढ़ा लेप लगाने से सभी तरह के चमड़ी के रोग दूर हो जाते हैं।
11. ऐलोवेरा और आंवला का जूस मिलाकर पीने से खून साफ होता है और पेट की सभी बीमारियां दूर होती हैं।
12. बीस ग्राम अांवला और एक ग्राम हल्दी मिलाकर लेने से सर्दी और कफ की तकलीफ में तुरंत आराम होता है
13. शहद आंवले का जूस और मिश्री सभी दस – दस ग्राम मात्रा में लेकर बीस ग्राम घी के साथ मिलाकर लेने से यौवन हमेशा बना रहता है।
14. अजवाइन को पीसकर और उसमें नींबू का रस मिलाकर लगाने से फोड़े-फुंसी दूर हो जाते हैं।
15. बहती नाक से परेशान हों तो युकेलिप्टस का तेल रूमाल में डालकर सूंघे। आराम मिलेगा।
16. बीस मिलीग्राम आंवले के रस में पांच ग्राम शहद मिलाकर चाटने से आंखों की ज्योति बढ़ती है।
17. रोज सुबह खाली पेट दस तुलसी के पत्तों का सेवन करने से शरीर स्वस्थ रहता है।
18. यदि आप कफ से पीड़ित हों और खांसी बहुत परेशान कर रही हो तो अजवाइन की भाप लें। कफ बाहर हो जाएगा।
19. अदरक का रस और शहद समान मात्रा में मिलाकर लेनेसे सर्दी दूर हो जाती है
20. थोड़ा सा गुड़ लेने से कई तरह के रोग दूर होते हैं, लेकिन इसेज्यादा नहीं खाना चाहिए चाहे ये कितना ही अच्छा लगता हो।
21. चौलाई और पालक की सब्जी भरपूर मात्रामें खाने से जवानी हमेशा बनी रहती है।
22. शहद का सेवन करने से गले की सभी समस्याएं दूर होती हैं और आवाज मधुर होती है।
23. सर्दी लग जाए तो गुनगुना पानी पिएं। राहत मिल जाएगी।
24. छाछ में पांच ग्राम अजवाइन का चूर्ण मिलाकर लेने से पेट के कीड़े मर जाते हैं।
25. सुबह- शाम खाली पेट जामुन की गुठली का रस पीने से डायबिटीज में आराम मिलता है।
26. पित्त बढ़ने पर घृतकुमारी और आंवले का रस मिलाकर पिएं। राहत मिलेगी।
27. दालचीनी का पाउडर पानी के साथ लेने पर दस्त में आराम हो जाता है।
28. गुड़ में थोड़ी अजवाइन मिलाकर लेने से एसिडिटी में राहत मिलती है।

सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


Wednesday, December 6, 2017

प्याज के चमत्कारी गुण


प्याज को बहुत से लोग उसकी दुर्गंध के कारण पसंद नहीं करते, पर इसके कई सारे लाभ होते हैं जैसे इम्यूनिटी पावर बढाना, चेहरे की झुर्रियों को दूर भगाना, आंखों की रोशनी बढाना आदि। प्याज में कई एंटी-इन्फामेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं, जिससे यह शरीर को कई तरह की बीमारियों से प्रोटेक्ट करता है। प्याज बहुत ही उपयोगी सब्जी है। इसमें एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं। यह खून मे विषैले तत्वों को बाहर निकालता है। इसकी सब्जी बनाकर खाने से बुखार, कफ और कोलेस्ट्रॉल कम होता है। पुराने जमाने में इजिप्शियन नियमित रूप से प्याज और लहसुन खाते थे। सल्फर की वहज से इनसे तीखी गंध आती है। सब्जियों में आलू के सबसे ज्यादा खाने में खाई जाने वाली सब्जी है प्याज। प्याज सेहत के लिए बहुत लाभकारी है। तो आइये जानते हैं प्याज के चमत्कारी गुणों के बारे में...

बाल झडने की परेशानी है तो प्यार आपके लिए बहुत लाभकारी है। गिरते हुए बालों की जगह पर प्याज का रस रगडने से बाल गिरना बंद हो जाएंगे। इसके अलावा बालों का लेप लगाने पर काले बाल आना शुरू हो जाते हैं। 

प्याज में मौजूद रेशे पेट के लिए काफी लाभकारी होते हैं। यदि आपको कब्ज की समस्या है तो कच्चा प्याज रोजाना खाने में शामिल कर दें।

गले की खराश को कम करें-: यदि आप सर्दी, कफ या खराश जैसी समस्या के शिकार हैं तो प्याज का रस पीजिए। इसमें आप शहद या गुड मिलाकर पानी अधिक फायदेमंद साबित होगा।

गठिया रोगी के लिए लाभकारी-: अगर आपके घर में किसी को जोडो में दर्द रहता है। तो प्याज के रस की मालिश करने से आराम मिलेगा। प्याज के रस केा सरसों के तेल में मिलाकर उस जगह पर मालिश करने से आराम मिलता है।

अगर पथरी की समस्या से है तो प्याज आपके लिए बहुत लाभकारी है। प्याज के रस को चीनी में मिलाकर उसका शरबत बना लें इसे पीने से पथरी परेशानी से राहत मिलेगी। 


सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


Tuesday, November 21, 2017

नीम और दही का फेसपैक




नीम और दही का फेसपैक यूज़ करने के फायदे

पिंपल्स – यह फेस पैक स्किन के बैक्टीरिया खत्म करके पिम्पल्स जैसी प्रॉबल्म दूर करने में हेल्प करता हैं।

डल स्किन – इसमें मौजूद विटामिन और न्यूट्रिएंट्स स्किन सेल्स हेल्दी बनाते हैं। स्किन ग्लोइंग दिखने लगती है।


टैनिंग – नीम और दही का फेस पैक स्किन के डैमेज टिश्यूज़ को रिपेयर करता है। इससे टैनिंग कम होती है।

ब्लैक हेड्स – इस फेस पैक में मौजूद इंग्रीडिएंट्स स्किन को क्लीन करके ब्लैक हेड्स दूर करने में मदद करते हैं।


चोट के निशान – इस फेस पैक में एंटीसेप्टिक प्रॉपर्टी होती है। इसे लगाने से चोट और उसके निशान ठीक होते हैं।

ड्राय स्किन – यह फेस पैक स्किन में नमी बनाए रखता है। ड्रायनेस और रिंकल्स की प्रॉब्लम में फायदा होता है।


सन प्रोटेक्शन – यह फेस पैक सनस्क्रीन की तरह काम करता है। सूरज की उल्टा वायलेट किरणों से बचाव होता है।






डार्क सर्कल – यह फेस पैक स्किन को हेल्दी और एनर्जाइज बनाता है। रेग्युलर लगाने से डार्क सर्कल भी दूर होते हैं।



















सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


Saturday, November 18, 2017

SKIN TIPS

SKIN TIPS


‘एवॉन’ के स्किनकेयर विशेषज्ञ व भारत के प्रमुख कॉस्मेटोलॉजिस्ट में से एक मोहित नारंग ने त्वचा को प्रदूषण मुक्त रखने रखने के संबंध में ये सुझाव दिए हैं : 

* रूई के फाहे पर बेबी ऑयल, नारियल तेल लगाकर चेहरे को साफ कर लें और फिर फेस वॉश से चेहरा साफ करें। इससे त्वचा के रोम छिद्र गहराई से साफ होंगे और बैक्टीरिया निकल जाएंगे। इसके बाद टोनर लगाएं।

* विटामिन सी और ई युक्त एंटी-ऑक्सीडेंट से समृद्ध फलों, सब्जियों को अपने आहार में शामिल करें। ब्रोकली, पालक, पीनट बटर इसके प्रमुख स्रोत हैं।

 त्वचा में नमी बरकरार रखने के लिए तरबूज, ग्रीन एप्पल आदि के कुछ टुकड़े काट लें और इसे अपने पानी के बोतल में डाल लें और पूरे दिन पोषण तत्वों से भरपूर इसका सेवन करें। 

* विटामिन और एंटी-ऑक्सीडेंट से समृद्ध फेस मास्क जैसे पपाया मास्क का इस्तेमाल करें। साफ, निखरी त्वचा के लिए टरमेरिक मास्क और गहरे दाग-धब्बे हटाने के लिए आप पोटेटो मास्क इस्तेमाल कर सकती हैं। 

* हवा में उच्च अम्लीय स्तर होने के चलते त्वचा में जल्दी रूखापन आता है और हानिकारक कण त्वचा में प्रवेश कर जाते हैं। इसके लिए ऐसे क्लींजर का इस्तेमाल करें जो आपकी त्वचा से सारी नमी नहीं निकाले और आप त्वचा को मॉइश्चराइज करना नहीं भूलें।

 त्वचा को साफ करने के बाद अच्छी कंपनी का टोनर इस्तेमाल करना जरूरी है। यह तेल और जमे धूल को अच्छी तरह से हटाकर त्वचा में किसी हानिकारक एसीडिक कण की मौजूदगी नहीं होना सुनिश्चित करता है। 

* टोनर को त्वचा पर एकसार लगाने के बाद हल्के हाथों से स्क्रब करना नहीं भूलें। हवा में एक्सपोज होने वाले शरीर सभी हिस्सों पर फेस स्क्रब लगाया जा सकता है। दिन में दो बार हल्के हाथों से स्क्रब करने से त्वचा धूल-तैलीयपन से पूरी तरह मुक्त रहेगा। 

* मॉइश्चराइजर के बजाय फेशियल ऑयल लगाना ज्यादा लाभकारी रहेगा। यह त्वचा में बाहरी हानिकारक कणों को प्रवेश करने से रोकता है।

ओरिफ्लेम इंडिया’ की त्वचा व मेकअप विशेषज्ञ आकृति कोचर ने भी संबंध में ये सुझाव दिए हैं : 

* ऐसे सन ब्लॉक क्रीम का इस्तेमाल करें जो न सिर्फ सूर्य की हानिकारक पराबैंगनी किरणों से सुरक्षा प्रदान करे बल्कि हवा में मौजूद प्रदूषकों और हानिकारक कणों से भी सुरक्षा प्रदान करें। 


सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


Sunday, November 5, 2017

खीरा सेहत के लिए लाभकारी


खीरा सेहत के लिए लाभकारी माना जाता है। ये सेहत के साथ-साथ सौंदर्य में बहुत फायदेमंद होता है। कम फेट व कैलोरी से भरपूर खीरे का सेवन आपको कई रोगो से बचाने में सहायता करता है। खीरे को आप कई तरह से खा सकते हैं, जैसे सलाद, जूस, सैंडवीच, या यूं ही नमक छिडक कर भी खा सकते हैं। खीरे के स्वास्थ्यवद्र्धक और सौन्दर्यवद्र्धक गुण दोनों अनगिनत होते हैं जैसे...
आयुर्वेद के अनुसार खीरा, पित्त, रक्त पित्त दूर करने वाला तथा रक्तविकार और मूत्र कच्छ नाशक रूचिकर फल है। खीरे के प्रयोग से पेट तथा जिगर की जलन शांत होती है।

आयुर्वेद के मुताबिक पेट में गर्मी होने के वजह से मुंह से बदबू निकलता है, खीरा पेट को शीतलता प्रदान करने में मदद करता है।
खीरे में विटामिन ए, बी1 बी6 सी, डी पौटेशियम, फास्फोरस, आयरन आदि प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं।
खीरे का नियमित सेवन से मासिक धर्म में होने वाली समस्याओं से भी छुटकारा मिलता है।
खीरा एक ऐसी सब्जी है जिसमें कोलेस्ट्रोल बिल्कुल नहीं होता। यह हृदय रोगी के लिए बहुत लाभकारी माना जाता है। एक अध्ययन के अनुसार खीरा में जो स्टे्रराल नाम का योगिक होता है वह कोलेस्ट्रोल को कम करने में मदद करता है।
खीरे में कैलोरी कम और फाइबर उच्च मात्रा में होता है। इसलिए मीडे डे में भूख लगने पर खीरा खाने से पेट देर तक भरा हुआ रहता है।





















सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें ।